जिसके साथ श्रेष्ठ विचार

जिसके साथ श्रेष्ठ विचार रहते हैं, वह कभी भी अकेला नहीं रह सकता | ~स्वामी विवेकानंद

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.