जिन्दगी वैसी नहीं है जैसी आप

जिन्दगी वैसी नहीं है जैसी आप इसके लिए कामना करते हैं, यह तो वैसी बन जाती है जैसा आप इसे बनाते हैं.

~ एंथनी रयान

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.